comscore
23 Feb, 2024 | Friday
ट्रेंडिंग : Auto NewsBest Recharge PlaniPhone 15Social Media AddictionChandrayaan 3

Deepfake पर सरकार का बड़ा कदम, सोशल मीडिया यूजर्स को मिलेगी राहत

Deepfake पर सरकार ने सख्त कदम उठाया है। MeitY ने सोशल मीडिया इस्तेमाल करने वाले करोंडो भारतीय यूजर्स को राहत देते हुए कहा है कि आज से रूल 7 ऑफिसर नियुक्त किया जाएगा, जो इस तरह के मामलों को उजागर करेगा।

Edited By: Harshit Harsh

Published: Nov 24, 2023, 04:29 PM IST

Rajeev
Rajeev

Story Highlights

  • डीपफेक पर सरकार ने सख्त कदम उठाया है।
  • इन मामलों के लिए ऑफिसर नियुक्त करने की बात कही है।
  • इसके अलावा सोशल प्लेटफॉर्म को इसमें सहयोग करने के लिए कहा है।

Deepfake फोटो और वीडियो को लेकर केन्द्र सरकार ने बड़ा कदम उठाया है। इसका फायदा सोशल मीडिया इस्तेमाल करने वाले करोड़ों भारतीय यूजर्स को मिलेगा। केन्द्रीय इलेक्ट्रॉनिक्स और आईटी मिनिस्टर राजीव चंद्रशेखर ने बताया कि ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर वायरल होने वाले डीपफेक फोटो और वीडियो के लिए स्पेशल ऑफिसर नियुक्त किया जाएगा, जो लोगों को इन मामलों में FIR दर्ज कराने में मदद करेगा। किसी भी तरह के फर्जी ऑनलाइन कॉन्टेंट को सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर फ्लैग करने के लिए ये ऑफिसर उन प्लेटफॉर्म्स को सूचित करेंगे ताकि तत्काल ऐसे कॉन्टेंट हटाए जा सके।

बता दें कि पिछले दिनों बॉलीवुड एक्ट्रेस रश्मिका मंदाना और क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर की बेटी सारा तेंदुलकर के डीपफेक वीडियो और फोटो सामने आने के बाद से सरकार ऐसे मामले को लेकर सख्त है। हाल ही में पीएम मोदी ने भी इस तरह के डीपफेक वीडियो का जिक्र करते हुए कहा था कि लोगों को इसके लिए जागरूक करने की जरूरत है। इस तरह के deepfake वीडियो को AI यानी ऑर्टिफिशियल इंटेलिजेंस के माध्यम से बनाया जाता है, जिसकी वजह से यह पता लगाना काफी मुश्किल होता है कि यह असली है या नकली है। इसके अलावा बॉलीवुड एक्ट्रेस कैटरीना कैफ और काजोल के भी ऐसे ही डीपफेक वीडियो वायरल हो चुके हैं।

राजीव चंद्रशेखर ने बताया कि आज से MeitY और भारत सरकार डीपफेक के लिए रूल सेवन ऑफिसर नियुक्त करेगी और सभी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स से इसके लिए 100 प्रतिशत कम्पलायंस की उम्मीद है। सरकार द्वारा नियुक्त किया जाने वाला रूल सेवन ऑफिसर एक ऐसा प्लेटफॉर्म तैयार करेगा, जिसके जरिए सरकार को किसी भी प्लेटफॉर्म द्वारा किए जाने वाले नियमों के उल्लंघन का पता चल सकेगा। यही नहीं रूल सेवन ऑफिसर डिजिटल प्लेटफॉर्म की शिकायतों को सुनेगा और उसके अनुसार जबाब देगा। इसकी वजह से आम नागरिकों यानी सोशल मीडिया यूजर्स को किसी भी प्लेटफॉर्म द्वारा किए जाने वाले उल्लंघन को सरकार तक आसानी से पहुंचाया जा सकेगा।

राजीव चंद्रशेखर ने इसके अलावा सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर होने वाले चाइल्ड सेक्सुअल अब्यूज कॉन्टेंट को लेकर भी सख्ती दिखाई है। कहा कि इस तरह के कॉन्टेंट भारत में प्रतिबंधित हैं और ऐसा करने वालों पर तुरंत ऐक्शन लिया जाएगा। केन्द्रीय मंत्री ने आज सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म के अधिकारियों के साथ मीटिंग की थी।

टेक्नोलॉजी और ऑटोमोबाइल की लेटेस्ट खबरों के लिए आप हमें व्हाट्सऐप चैनल, फेसबुक, यूट्यूब और X, पर फॉलो करें।

Author Name | Harshit Harsh

STAY UPDATED WITH OUR NEWSLETTER

Select Language